योग महोत्सव में योग और ध्यान सीख कर प्रफुल्लित हुए उदयपुरवासी

-एमबी कॉलेज ग्राउण्ड में तीन दिवसीय निःशुल्क योग महोत्सव ‘हर दिल ध्यान-हर दिन ध्यान‘ का आयोजन

-- 3 अप्रैल तक प्रातः 6ः15 बजे से प्रातः 8 बजे और 2 अप्रैल को सायं 6 से सायं 7 बजे आयोजित

-- संस्कृति मंत्रालय द्वारा श्री रामचंद्र मिशन और हार्टफुलनेस संस्थान के साथ मिलकर

-- एयू स्मॉल फायनेंस बैंक एवं सुखाड़िया विश्वविद्यालय के सहयोग से


उदयपुर के एमबी कॉलेज ग्राउण्ड में तीन दिवसीय निःशुल्क योग महोत्सव ‘हर दिल ध्यान-हर दिन ध्यान‘ का आयोजन किया जा रहा है। इस अवसर पर हजारों की संख्या में उदयपुरवासियों ने अनुभवी योग गुरूओं के सानिध्य में योग, आसन, प्राणायाम, मुद्राओं का अभ्यास कर अपने आप को तरोताजा और प्रफुल्लित महसूस किया। योग हमारी जीवन शैली का अंग होना चाहिए, इसकी जागरूकता लाने के लिए श्री राम चंद्र मिशन और हार्टफुलनेस संस्थान के साथ मिलकर यह योग महोत्सव संस्कृति मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव के तहत आयोजित किया जा रहा है। यह महोत्सव एयू स्मॉल फायनेंस बैंक एवं सुखाड़िया विश्वविद्यालय के सहयोग से आयोजित किया जा रहा है।


योग महोत्सव में जिला पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा, कर्मिशयल कोर्ट एडीजे शिवानी जौहरी, नगर निगम उदयपुर उपमहापौर पारस सिंघवी, राजस्थान विद्यापीठ के कुलपति प्रोफेसर कर्नल एसएस सारंगदेवोत, एमपीयूएटी के पूर्व कुलपति उमाशंकर शर्मा के अतिरिक्त जिला कलेक्टर ताराचंद मीना, एडीएम प्रशासन ओपी बुनकर, रिटायर्ड आईएएस अशोक यादव, सहित उदयपुर के अनेक गणमान्य और प्रतिष्ठित लोगों ने भाग लिया और सभी को योग को अपने जीवन में उतारने का संदेश दिया।  इस दौरान योग महोत्सव समन्वयक, आरएएस श्री मुकेश कुमार भी उपस्थित थे।


योग महोत्सव में जसवंत मेनारिया, आशा जैन, प्रियंका पटेल, राजेश सिहं, नितिन नौटियाल, वंदना शर्मा ने विभिन्न योग आसान करवाए। जबकि वरूणिका मेहता, मंगला पटेल, आशी गांधी, हिमांक और वान्या रेडडी ने ब्राइटर मांइडस् की प्रस्तुति दी। कार्यक्रम का संचालन उषा कलवानी ने किया।


योग महोत्सव के दौरान मधुमेह, तनावमुक्ति, हाइपर टेन्शन, एंजाईटी, आदि के समाधान हेतु यौगिक प्राणाहुतियुक्त ध्यान, बच्चों की मानसिक क्षमता बढ़ाने हेतु ब्राइटर मांइड्स का प्रदर्शन एवं पोलेरिटी के स़त्र आयोजित हुए। यह योग महोत्सव एमबी कॉलेज ग्राउण्ड में 3 अप्रैल तक प्रातः 6ः15 बजे से प्रातः 8 बजे और 2 अप्रैल तक सायं 6 से सायं 7 बजे तक आयोजित किया जा रहा है। 


राजस्थान के हार्टफुलनेस संस्थान के समन्वयक, विकास मोघे और उदयपुर हार्टफुलनेस संस्थान के समन्वयक डॉ राकेश दशोरा एवं उदयपुर जोन समन्वयक, मधु मेहता ने बताया कि सामाजिक सरोकर को समर्पित एयू फाउंडेशन के सहयोग से उदयपुर के अतिरिक्त इसी प्रकार के योग महोत्सव का आयोजन 15 अगस्त तक जोधपुर, बीकानेर, उदयपुर, सागवाड़ा, अलवर, भरतपुर, कोटा, अजमेर, भीलवाड़ा, आदि विभिन्न शहरों में किया जायेगा, जिसमें 1 लाख से अधिक लोग भाग लेंगे। उल्लेखनीय है कि जयपुर एवं सीकर में 3 दिवसीय योग महोत्सव 17 मार्च को आयोजित किया गया था, जिसमें बड़ी संख्या में स्थानीय लोगों ने भाग लिया था। 


उदयपुर में आयोजित योग महोत्सव के लिए पंजीकरण का विवरण https://hfn.link/hdd पर उपलब्ध है।


हार्टफुलनेस योग और ध्यान कार्यक्रमों की अतिरिक्त जानकारीः


व्यक्तिगत एवं समुदायिक स्तर पर आंतरिक शांति, आनंद और समग्र कल्याण की खोज में मदद करने के लिए हार्टफुलनेस योग एवं ध्यान कार्यक्रमों की यह श्रृंखला आयोजित की जा रही है। मानसिक स्वास्थ्य पर विशेष रूप से केन्द्रित इन कार्यक्रमों में हार्टफुलनेस संस्थान के संस्थापक एवं श्री रामचंद्र मिशन के अध्यक्ष, श्री कमलेश पटेल जी के मार्गदर्शन में योग एवं ध्यान के अनेक कार्यक्रम शामिल हैैं। ‘बदलाव हमसे है’ की सोच को आगे बढ़ते हुये एयू स्मॉल फायनेंस बैंक इस कार्यक्रम के द्वारा समाज कल्याण के लिए जरूरी बदलावों को लाने में सहयोग दे रहा है।


सुखाड़िया विश्वविद्यालय की सक्रिय भागीदारी मे आयोजित इस योग महोत्सव से विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं को अत्यधिक लाभ मिलेगा। इस कार्यक्रम के तहत ब्लड प्रेशर, मोटापा, डायबिटीज आदि के लिए लाभकारी आसन, प्राणायाम, मुद्राओं के व्यावहारिक अभ्यास के साथ ही डिप्रेशन, तनाव प्रबन्धन, एकाग्रता एवं आत्मविश्वास में वृद्धि के लिए हार्टफुलनेस के प्राणाहुति आधारित ध्यान का तीनों दिन व्यावहारिक अभ्यास करवाया जायेगा। योग महोत्सव में छोटे बच्चों के मानसिक विकास के लिए ब्राइटर माइण्ड्स की प्रभावी तकनीकों का प्रदर्शन भी होगा। यह बच्चों की एकाग्रता एवं आत्मविकास वृद्धि में सहायक होगा।


हार्टफुलनेस के ध्यान सत्र पूर्णतया निःशुल्क होते हैं। दुनियभर में 150 से अधिक देशों में हार्टफुलनेस के 20000 से अधिक प्रशिक्षक हैं जो इस सरल अभ्यास को बिना किसी शुल्क के उपलब्ध करातें हैं ताकि हर एक व्यक्ति को इसका लाभ मिल सके। उदयपुर में व्यक्तिगत स्तर पर 60 से अधिक स्वयंसेवी प्रशिक्षकों की सहायता से ध्यान का अभ्यास सुगमता से किया जा सकता है। इसके साथ ही हार्टफुलनेस मोबाइल ऐप के माध्यम से घर बैठे भी इसका अभ्यास किया जा सकता है, हार्टफुलनेस ऐप एण्ड्रॉइड व एप्पल के प्ले स्टोर पर निःशुल्क उपलब्ध है। 


हार्टफुलनेस संस्थान, रिलेक्सेसन एवं मेडिटेशन के लिए जाना जाता है। हार्टफुलनेस रिलेक्सेसन एवं मेडिटेशन ध्यान का एक प्रभावशाली एवं सरल तरीका है जिसके द्वारा हम हृदय की अन्तःप्रेरणा का अनुसरण करते हैं और मन और हृदय के बीच एकरूपता लाने का अभ्यास करते हैं। जिससे मानसिक तनाव, क्रोध आदि में कमी आती है, प्रशन्नता एवं कार्यक्षमता बढ़ती है जिससे हमारे व्यवहार एवं सोच में स्थायी बदलाव आता है।


हार्टफुलनेस संस्थान एवं श्री रामचन्द्र मिशनृ किसी भी धर्म या सम्प्रदाय से सम्बद्ध नहीं है। यह एक अलाभकारी आध्यात्मिक संस्था है जिसकी स्थापना 1945 में हुई थी। वर्तमान में यह संयुक्त राष्ट्र संघ के यूएनडीपीआई से अन्तर्राष्ट्रीय गैर-सरकारी संस्था के रूप में सम्बद्ध है एवं विश्वभर में आध्यात्मिकता के जिज्ञासुओं को मानव कल्याणकारी हार्टफुलनेस मेडिटेशन का अभ्यास निःशुल्क उपलब्ध करवाता है। इसका विश्व मुख्यालय कान्हा शान्तिवनम हैदराबाद में है जहाँँ पर विश्व का सबसे बड़ा मेडिटेशन हॉल है जो अपने आध्यात्मिक एवं सुखद पर्यावरणीय वातावरण के लिए विख्यात है।

Popular posts from this blog

पीएनबी मेटलाइफ सेंचुरी प्लान - आजीवन आय और पीढ़ियों के लिए सुरक्षा

एंटेरो हेल्थकेयर सॉल्यूशंस लिमिटेड ने सेबी के समक्ष दाखिल किया ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (डीआरएचपी)

जयपुर की महिला सोशल मीडिया पर मचा रही है धूम