Posts

Showing posts with the label Education

आईआईएचएमआर स्टार्ट-अप ने हेल्थकेयर के क्षेत्र में एंटरप्रेन्योरशिप को बढ़ावा देने के लिए बीएमसीएचआरसी और एचसीजी अस्पताल के साथ समझौता ज्ञापन पर किए हस्ताक्षर

Image
जयपुर, 18 मई, 2024- प्रतिष्ठित आईआईएचएमआर फाउंडेशन के तहत एक अग्रणी पहल आईआईएचएमआर स्टार्ट-अप्स ने जयपुर के भगवान महावीर कैंसर अस्पताल और अनुसंधान केंद्र (बीएमसीएचआरसी) और एचसीजी अस्पताल के साथ समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। इस साझेदारी का उद्देश्य स्वास्थ्य देखभाल संबंधी स्टार्ट-अप के लिए जरूरी समर्थन और विकास के अवसर उपलब्ध कराना है। फोकस के प्रमुख क्षेत्रों में क्लिनिकल रिसर्च, डिवाइस वैलिडेशन, टेक्नोलॉजी कार्यान्वयन और कॉर्पाेरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी (सीएसआर) पहल के लिए व्यापक सपोर्ट शामिल होगा। इस पहल पर टिप्पणी करते हुए, आईआईएचएमआर फाउंडेशन के को-फाउंडर डॉ. पी आर सोडानी ने कहा, ‘‘भगवान महावीर कैंसर अस्पताल और एचसीजी अस्पताल के साथ की गई इस साझेदारी के तहत दोनों संस्थानों को विशेषज्ञता और संसाधनों का आदान-प्रदान करने और एक-दूसरे की ताकत को आगे बढ़ाने के अवसर मिलेंगे। इस एसोसिएशन के माध्यम से अकादमिक जानकारी और उद्योग में होने वाले इनोवेशन के बीच एक बेहतर तालमेल हो सकेगा। कहा जा सकता है कि हम साथ मिलकर उभरते उद्यमियों के लिए आकर्षक अवसर पैदा करेंगे और समाज में महत्वपूर

आईआईएम संबलपुर और एनएसई एकेडमी ने 'फ्यूचर रेडी फिनटेक लीडर्स फॉर एन एरा ऑफ टेक्नोलॉजिकल इनोवेशन' विषय पर किया कॉन्फ्रेंस का अनूठा आयोजन

Image
नेशनल, 14 मई, 2024: आईआईएम संबलपुर और एनएसई एकेडमी ने 'नेविगेटिंग डिसरप्शन: फ्यूचर रेडी फिनटेक लीडर्स फॉर एन एरा ऑफ टेक्नोलॉजिकल इनोवेशन' विषय पर एक अनूठी कॉन्फ्रेंस का आयोजन एनएसई, मुंबई में किया। इस कार्यक्रम की मेजबानी आईआईएम संबलपुर के डायरेक्टर और एनएसई एकेडमी के सीईओ ने की। सोरबोन बिजनेस स्कूल (पेरिस) के डीन अतिथि के रूप में जबकि फिनटेक और संबद्ध क्षेत्रों के आठ विशेषज्ञ वक्ता इस चर्चा में शामिल हुए। इस कार्यक्रम में बीएफएसआई उद्योग, शिक्षा जगत और फिनटेक उद्योग के अग्रणी सीएक्सओ से पचास से अधिक लोग उपस्थित थे। गोलमेज चर्चाओं में तकनीकी नवाचार, नियामकीय  परिवर्तनों और पीढ़ीगत गतिशीलता के कारण होने वाले व्यवधानों से निपटने और उनका लाभ उठाने में फिनटेक नेतृत्व की भूमिका का पता लगाया गया। बातचीत की शुरुआत बैंकिंग उद्योग में नियो बैंकिंग, ओपन बैंकिंग, अकाउंट एग्रीगेटर्स जैसे फिनटेक प्रेरित परिवर्तनों पर प्रकाश डालने के साथ हुई। इसके अलावा बाय नाउ—पे लेटर, (बीएनपीएल), एल्गो ट्रेडिंग और एम्बेडेड पेमेंट पर भी चर्चा की गई। चर्चा में विनियमों, सूचना सुरक्षा, वित्तीय समावेशन, धन सृज

एलन एलुमिनी मीट में शामिल हुए एक हजार से अधिक अतिथि, साझा किए अनुभव

Image
कोटा, 14 मई, 2024:  मुझे गर्व है कि मैं कोटा में पढ़ा, एलन स्टूडेंट रहा। यहीं से मेरे सपने पूरे होने की शुरुआत हुई। मेरे कॅरियर में एलन का बड़ा योगदान है। कोटा से ही सफलता का सफर संभव हुआ है। अब बदला हुआ एलन और कोटा देखकर बहुत अच्छा लग रहा है। कुछ ही वर्षों में कोटा बहुत बदल गया है। एलन में 1995 बैच में प्री-मेडिकल स्टूडेंट रहे डॉ.जीवन कांकरिया ने यह बात एलन एलुमिनाई-मीट समानयन में कही। एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट की ओर से कोटा में दो दिवसीय एलन एलुमिनाई मीट-2024 समानयन आयोजित किया गया। कार्यक्रम में शामिल होने के लिए देशभर से डॉक्टर्स कोटा आए। करीब एक हजार से अधिक अतिथि इस कार्यक्रम में शामिल हुए। अलग-अलग वर्षों में कोटा में एलन से पढ़कर अपना कॅरियर बनाने वाले इन स्टूडेंट्स के लिए कई कार्यक्रम दो दिनों में हुए। इस दौरान ये अपने शिक्षकों से मिले, उनका आशीर्वाद लिया। दोस्तों से मिले तो गले लगकर एक दूसरे के बारे में जानकारी ली। कोटा और एलन का बदला हुआ स्वरूप इन स्टूडेंट्स ने देखा। कोटा में नवनिर्मित चम्बल रिवर फ्रंट और सिटी पार्क का भ्रमण किया। इसके साथ ही कोटा में एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के अलग-

राजस्थान स्थित आईआईएचएमआर स्टार्ट-अप्स ने हेल्थकेयर स्टार्ट-अप्स के पोषण के लिए सामर्थ्य 2.O: 'एन एक्सक्लूसिव ग्रोथ इनक्यूबेशन प्रोग्राम' लॉन्च किया।

Image
जयपुर, 09 मई 2024: आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी के स्वास्थ्य देखभाल पर केंद्रित आईआईएचएमआर स्टार्ट-अप्स जयपुर, राजस्थान में स्थित आईआईएचएमआर फाउंडेशन की एक प्रमुख इकाई ने हाल में सामर्थ्य 2.O: 'एन एक्सक्लूसिव ग्रोथ इनक्यूबेशन प्रोग्राम' लॉन्च किया है। इसका उद्देश्य पोस्ट—एमवीपी के बाद स्टार्ट-अप का समर्थन करने या उनके विकास पथ के साथ राजस्व जुटाने में योगदान करना है। दूसरे संस्करण में 15 अत्यधिक नवीन स्टार्ट-अप को मान्यता दी गई, जो सामर्थ्य 1 की तुलना में लगभग 114% की वृद्धि दर्शाता है। चयनित स्टार्ट-अप को इनक्यूबेशन कार्यक्रम के पूरा होने के बाद प्रदान की जाने वाली 15 लाख तक की वित्तीय सहायता से लाभ होगा। आईआईएचएमआर स्टार्ट-अप्स द्वारा बड़े स्तर पर इनक्यूबेशन समर्थन उपलब्ध करवाया जाता है, जिसमें ध्यान जीतने, स्वास्थ्य सेवा और व्यावसायिक ज्ञान बढ़ाने, क्लाइंट कनेक्ट, फंडिंग और आईआईएचएमआर के सहायक नेटवर्क तक पहुंचने पर मार्गदर्शन शामिल है, जिसे संगठन ने अपने अस्तित्व के 40 वर्षों में हासिल किया है। उल्लेखनीय रूप से, पूरे भारत से 200 से अधिक महत्वाकांक्षी स्टार्ट-अप ने इनक्यूबेशन समर्थ

आईआईएम संबलपुर के 8वें वार्षिक दीक्षांत समारोह में 236 विद्यार्थियों को प्रदान की गई डिग्रियां

Image
संबलपुर, 30 अप्रैल, 2024: देश के प्रमुख प्रबंधन संस्थानों में से एक आईआईएम संबलपुर का 8वां दीक्षांत समारोह आयोजित किया गया। संस्थान के इतिहास में यह दिन इस लिहाज से भी महत्वपूर्ण उपलब्धि वाला दिन रहा, क्योंकि इस दीक्षांत समारोह में 8वें एमबीए बैच (2022-24) के साथ-साथ एग्जीक्यूटिव एमबीए (2021-23) के पहले बैच को भी डिग्रियां प्रदान की गई। दीक्षांत समारोह में प्रिया पंत और रोमा दाश ने क्रमशः एमबीए और एक्जीक्यूटिव एमबीए प्रोग्राम में उत्कृष्ट शैक्षणिक प्रदर्शन के लिए चेयरमैन गोल्ड मैडल हासिल किए। आईआईएम संबलपुर के लिए यह गर्व की बात थी और महिला सशक्तिकरण के लिहाज से भी यह एक महत्वपूर्ण उपलब्धि कही जा सकती है कि संस्थान की दो छात्राओं ने प्रथम रैंक प्राप्त कर क्रमशः एमबीए और एक्जीक्यूटिव एमबीए प्रोग्राम के  प्रतिष्ठित चेयरमैन गोल्ड मैडल हासिल किए। यह भी गौरतलब है कि एमबीए बैच में शीर्ष 10 स्कोररों में से 6 आरक्षित श्रेणियों से थे। बंधन बैंक के फाउंडर, एमडी और सीईओ श्री चंद्रशेखर घोष ने मुख्य अतिथि के रूप में दीक्षांत समारोह में शामिल हुए। इस अवसर पर आईआईएम संबलपुर के बीओजी की चेयरमैन और सेल

जेईई-मेन में एलन जयपुर के यशनील सिटी टाॅपर

Image
जयपुर, 25 अप्रैल, 2024: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की ओर से जेईई-मेन 2024 के परिणामों में एक बार फिर एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के स्टूडेंट्स ने श्रेष्ठता साबित की है। एलन जयपुर के मेंटोर और सीएओ सीआर चैधरी ने बताया कि अब तक देखे गए परिणामों में एलन स्टूडेंट नील कृष्ण ने आल इंडिया टाॅप किया है। इसके साथ ही टाॅप-5 में एलन के 3 स्टूडेंट्स ने स्थान प्राप्त किया। वहीं एलन जयपुर के टाॅप-150 में एलन जयपुर के तीन स्टूडेंट्स रहे हैं। यशनील रावत ने 100 पर्सेन्टाइल के साथ आल इंडिया रैंक-45 प्राप्त कर सिटी टाॅप किया है। इसके साथ ही सक्षम खंडेवाल ने एआईआर-117 प्राप्त कर दूसरे सिटी टाॅपर तथा पलाक्ष गोयल रैंक 122 के साथ तीसरे सिटी टाॅपर रहा है। एलन जयपुर के 14 स्टूडेंट्स ने 99 से अधिक पर्सेन्टाइल स्कोर किया है। एलन जयपुर के टाॅप-500 में 6, टाॅप-1000 में 14, टाॅप-1500 में 23, टाॅप-2000 में 32, ऑफ-3000 में 54, टाॅप-5000 में 76, टाॅप-10000 में 135 स्टूडेंट्स शामिल हैं। नेशनल रिजल्ट्स में एलन के दो वर्ष से क्लासरूम स्टूडेंट नीलकृष्ण ने आल इंडिया टाॅप किया है। वहीं रैंक-2 पर भी एलन के क्लासरूम स्टूडेंट दक्षेस संज

टैक्नोलॉजी को सार्वजनिक स्वास्थ्य के साथ इंटीग्रेट करते हुए आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी ने डिजिटल हेल्थ पर पाठ्यक्रम शुरू किया

Image
जयपुर; 23 अप्रैल, 2024- देश में अग्रणी स्वास्थ्य प्रबंधन अनुसंधान विश्वविद्यालय आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी, जयपुर ने डिजिटल हेल्थकेयर सिस्टम में दिलचस्पी रखने वाले इच्छुक पेशेवरों के लिए डिजिटल हेल्थ पर अपना पहला सर्टिफिकेट कोर्स लॉन्च किया है। इस पाठ्यक्रम को शुरू करने का उद्देश्य डिजिटल हेल्थ की दुनिया में हाल के दौर में हुए इनोवेशंस की समझ के साथ स्वास्थ्य पेशेवरों की पीढ़ी को विकसित करना है, ताकि वे स्वास्थ्य सेवाओं की उपलब्धता, सामर्थ्य और गुणवत्ता को सर्वाेच्च प्राथमिकता देते हुए स्वास्थ्य प्रणालियों के बेहतर परफॉर्मेंस में योगदान दे सकें। आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी के प्रेसिडेंट डॉ. पी.आर. सोडानी ने अपने उद्घाटन भाषण में कहा,  ‘‘आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी अपनी स्थापना के बाद से, स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में प्रबंधन संबंधी प्रक्रियाओं में सुधार के उद्देश्य से लगातार काम कर रहा है। देश में सार्वजनिक स्वास्थ्य देखभाल और डिजिटल हेल्थकेयर ईकोसिस्टम के बीच मौजूदा फासले को ध्यान में रखते हुए आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी ने डिजिटल हेल्थ से जुड़े इनोवेशंस के साथ हेल्थ प्रोफेशनल्स को विकसित करने की जरूरत को सम

आईआईएम संबलपुर ने एक्जीक्यूटिव एमबीए प्रोग्राम (2024-2026) में प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन की तिथि बढ़ाई

Image
* विद्यार्थी अब 30 अप्रेल, 2024 तक कर सकते हैं आवेदन - संबलपुर, 20 अप्रैल, 2024: देश के प्रमुख प्रबंधन संस्थानों में से एक, आईआईएम संबलपुर ने अपने दो-वर्षीय कार्यकारी एमबीए कार्यक्रम 2024-2026 की समय सीमा 30 अप्रैल, 2024 तक बढ़ा दी है। इस प्रोग्राम को इस तरह डिजाइन किया गया है कि इसकी सहायता से विद्यार्थी अपने कामकाज के क्षेत्र में नए और इनोवेटिव विचारों को आसानी से शामिल कर सकते हैं। साथ ही वे जटिल और मुश्किल कारोबारी  समस्याओं को हल करने, लोगों को मैनेज करने के संबंध में गहरा विजन हासिल कर सकते हैं। इस तरह उन्हें संगठनात्मक दृष्टि से मजबूत और अग्रणी तौर पर काम करने में आसानी होती है। इसके अतिरिक्त, इसका उद्देश्य टीमों और संगठनों को प्रभावी ढंग से प्रबंधित करने के लिए आवश्यक मजबूत नेतृत्व कौशल विकसित करना है। पाठ्यक्रम को कामकाजी पेशेवरों के लिहाज से ही तैयार किया गया है और यह स्नातक परीक्षा में न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक और कम से कम 3 साल के पेशेवर अनुभव वाले लोगों को एक अनूठा अवसर प्रदान करता है। संकाय सदस्यों द्वारा लाइव सत्र के जरिये प्रतिभागियों को इंटरैक्टिव तरीके से सीखने की सुविधा

आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी ने अपने पिछले प्लेसमेंट रिकॉर्ड के मुकाबले दोगुने से अधिक उच्चतम पैकेज के साथ इस वर्ष बनाया नया रिकॉर्ड

Image
नेशनल, 15 अप्रैल, 2024: भारत के अग्रणी स्वास्थ्य प्रबंधन अनुसंधान विश्वविद्यालय, आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी ने 35.62 एलपीए के उच्चतम पैकेज के साथ इस सीजन में अब तक का अभूतपूर्व प्लेसमेंट दर्ज किया है। वर्ष 2022 में आईआईएचएमआर के 17.22 एलपीए के उच्चतम पैकेज को पीछे छोड़ते हुए यह अब तक का उच्चतम प्लेसमेंट पैकेज है। संस्थान में चल रहे प्लेसमेंट में 75 प्रतिशत छात्रों को राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न संगठनों में उल्लेखनीय पैकेज पर विभिन्न भूमिकाओं पर रखा गया है। आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी के अध्यक्ष, डॉ. पीआर सोडानी ने प्लेसमेंट के बारे में बताया कि, “इस साल कैंपस में भर्तीकर्ताओं से उत्कृष्ट प्लेसमेंट प्राप्त होने की हमें बेहद खुशी है। स्वास्थ्य सेवा के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के वैश्विक प्रोत्साहन को देखते हुए हेल्थकेयर इंडस्ट्री के पैकेज में बढ़ोतरी देखी जा रही है। मैं छात्रों को उल्लेखनीय प्लेसमेंट पाने पर हार्दिक बधाई और उनके उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं देता हूं, वे अपनी सफलता की कहानियां इसी प्रकार लिखते रहेंगे।‘‘ उल्लेखनीय है कि प्रिस्टिन केयर और इनडीड की एक कोलेबोरेटिव

भारतीय प्रबंध संस्थान रायपुर ने शैक्षिक उत्कृष्टता में एक मील का पत्थर बनाकर 13वां वार्षिक दीक्षांत समारोह मनाया

Image
नेशनल, 11 अप्रैल, 2024 : भारतीय प्रबंध संस्थान (भा.प्र.सं.) रायपुर ने अपना 13वां वार्षिक समारोह सोमवार, 10 अप्रैल, 2024 को आयोजित किया, जिसमें उसके स्नातक छात्रों की शैक्षिक उपलब्धियों और सफलताओं को समर्पित किया गया। समारोह, जो नया रायपुर में संस्थान के कैम्पस पर आयोजित किया गया था, गर्व और उत्सव से भरा एक ऐतिहासिक अवसर था। परिवार के सदस्य, मित्र, और प्रतिष्ठित मेहमान श्रवण में थे, जिनके सामने 22 छात्र आउटबाउंड ग्रेजुएट, 298 पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम ग्रेजुएट, 184 ई-पीजीपी ग्रेजुएट, और 11 फेलो और एग्जीक्यूटिव फेलो प्रोग्राम इन मैनेजमेंट ग्रेजुएट्स ने अपनी समारोही डिग्री और मेडल प्राप्त किए। इनके साथ ही, 124 अलुमनाई भी उपस्थित थे जिन्होंने बैच 2018-20 और 2019-21 से अपनी डिग्री ऑनलाइन प्राप्त की थी और समारोह में शारीरिक रूप से सम्मानित किए गए। विशिष्ट अतिथियों और प्रतिष्ठित वक्ताओं ने इस घटना को समृद्ध किया, जो युवा स्नातकों को पेशेवर यात्रा पर उत्साहित एवम प्रेरित किया। समारोह के मुख्य अतिथि श्री जी वी प्रसाद थे, जो डॉ. रेडीज लेबोरेटरीज के सह-अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक हैं, जिन्होंने समारो

आईआईएम संबलपुर के दिल्ली कैम्पस में एमबीए फॉर वर्किंग प्रोफेशनल्स (2024-2026) प्रोग्राम की प्रवेश प्रक्रिया शुरू

Image
नई दिल्ली/संबलपुर, 02 अप्रैल, 2024: देश के प्रमुख प्रबंधन संस्थानों में से एक आईआईएम संबलपुर ने अपने दिल्ली कैम्पस में एमबीए फॉर वर्किंग प्रोफेशनल्स (2024-2026) प्रोग्राम के लिए प्रवेश प्रक्रिया शुरू कर दी है। राजधानी दिल्ली को देश का दिल माना जाता है और यह शहर टॉप ब्यूरोक्रेट्स के साथ-साथ शैक्षिक गतिविधियों का केंद्र भी है। दो साल के डिग्री प्रोग्राम एमबीए फॉर वर्किंग प्रोफेशनल्स को उद्यमशीलता के साथ-साथ स्किल इनोवेशन को बढ़ावा देने और संगठनात्मक विकास को आगे बढ़ाने के लिहाज से डिजाइन किया गया है। यह प्रोग्राम वर्किंग प्रोफेशनल्स को बेहतर रणनीति बनाने के काबिल बनाता है और इस तरह वे प्रासंगिक दुनिया में सोच-समझकर बेहतर निर्णय कर सकते हैं। इस प्रोग्राम के लिए ऑनलाइन आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 15 अप्रैल, 2024 है। कार्यक्रम की सप्ताहांत कक्षाएं आईआईएम संबलपुर के दिल्ली परिसर, आईएसआईडी, वसंत कुंज, नई दिल्ली में ब्लेंडेड मोड में आयोजित की जाएंगी। इस प्रोग्राम के साथ अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालयों से दोहरी डिग्री प्राप्त करने का विकल्प भी मिलता है। आईआईएम संबलपुर के डायरेक्टर प्रोफेसर महादेव

"स्टडी इन हांगकांग" इंडिया एजुकेशन फेयर में छात्र तलाशेंगे शीर्ष हांगकांग विश्वविद्यालयों में उच्च शिक्षा हासिल करने के विकल्प

Image
राष्ट्रीय , 01 अप्रैल 2024: दिल्ली के छात्रों को "स्टडी इन हांगकांग" इंडिया एजुकेशन फेयर में 7 अप्रैल 2024 को, हांगकांग के आठ प्रमुख विश्वविद्यालयों में मौजूद उच्च शिक्षा के अवसरों के बारे में जानने के लिए आमंत्रित किया गया है। इस शिक्षा मेले का आयोजन, द ललित, नई दिल्ली में किया जाएगा। यह आयोजन, हांगकांग के अग्रणी विश्वविद्यालयों के प्रतिनिधियों को एक जगह पर बुलाकर वैश्विक शैक्षणिक अवसरों को अनलॉक करने का ठोस प्रयास है। इसमें भाग लेने वालों को हांगकांग में पढ़ाई के फायदे के बारे में जानने और हांगकांग एसएआर सरकार द्वारा तय अंतरराष्ट्रीय छात्रों के लिए नवीनतम अनुकूल नीतियों को समझने का एक अनूठा और बेशकीमती अवसर मिलेगा। "स्टडी इन हांगकांग" अभियान का प्राथमिक उद्देश्य है, भारत के छात्रों के साथ जुड़ना, अंतर्राष्ट्रीय सहयोग को बढ़ावा देना और हांगकांग में उच्च शिक्षा विकल्पों के बारे में गहन जानकारी प्रदान करना है। मुंबई से शुरू होकर अहमदाबाद, हैदराबाद और जयपुर तक पहुंची यह पहल दिल्ली में इंडिया एजुकेशन फेयर के साथ समाप्त हो रही है। इस अंतिम कार्यक्रम में छात्र और अभिभाव

अमलगम 3.0: ग्लोबल आंत्रप्रेन्योरशिप समिट में नवाचार और सहयोग का चार दिवसीय आयोजन

Image
26 मार्च, 2024, ग्रेटर नोएडा: अटल इनक्यूबेशन सेंटर-बिमटेक (बिड़ला इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट टेक्नोलॉजी) द्वारा चार दिवसीय ग्लोबल आंत्रप्रेन्योरशिप समिट 'अमलगम 3.0' का आयोजन सफलतापूर्वक संपन्न हुआ। 19 से 22 मार्च तक चले कार्यक्रम में नवाचार की भावना को तेजी से आगे बढ़ाते हुए सांस्कृतिक आदान-प्रदान को बढ़ावा दिया गया। 'अमलगम 3.0' के आयोजन का मुख्य उद्देश्य उभरते उद्यमियों को सपोर्ट करने और स्टार्टअप परिदृश्य में व्यापक बदलाव लाना था। इसी प्रतिबद्धता के साथ 'अमलगम 3.0' वैश्विक स्तर पर उद्यमिता के भविष्य को आकार देने के लिए भौगोलिक सीमाओं को पार करते हुए दुनिया भर के दूरदर्शी, उद्यमियों और विचारकों को एक साथ लाया। 'अमलगम 3.0' में 12 देशों के प्रतिनिधियों ने 11 गहन सत्रों में भाग लिया, जिसमें उनके संबंधित डोमेन में सम्मानित 30 से अधिक वक्ताओं का एक प्रतिष्ठित पैनल शामिल था। व्यावहारिक चर्चाओं, विचारोत्तेजक पैनलों और इंटरैक्टिव सैशन के माध्यम से शिखर सम्मेलन ने उद्यमिता के असंख्य पहलुओं का पता लगाया, सफलता के रहस्यों को उजागर किया और उपस्थित लोगों में उद्यमशीलता

आईसीएआई ने विकसित भारत 2047 में सीए की भूमिका पर विचार-विमर्श करते हुए सेंटर ऑफ एक्सीलेंस (सीओई) जयपुर में की बैठक

Image
जयपुर ,  23 मार्च 2024:  इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) ने अपने गठन के 75 साल पूरे होने का जश्न मनाते हुए 21 और 22 मार्च को जयपुर में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस (सीओई) में दो दिवसीय बैठक की मेजबानी की, जिसमें आईसीएआई के पूर्व प्रेसिडेंट और सेंट्रल काउंसिल सदस्यों ने 'विकसित भारत 2047' में चार्टर्ड अकाउंटेंट्स की महत्वपूर्ण भूमिका के बारे में चर्चा की, साथ ही पेशे के लिए अगले 25 वर्षों के लिए एक रोडमैप की रूपरेखा तैयार की, जब आईसीएआई अपने शताब्दी वर्ष के करीब पहुंच जाएगा। आईसीएआई एक 'विजन डॉक्यूमेंट 2049' लेकर आएगा जो विद्यार्थियों और सदस्यों के विकास, नियामक और रिपोर्टिंग तंत्र को मजबूत करने, एआई जैसी नए युग की तकनीकी प्रगति को अपनाने और विकास में सीए के योगदान, देश में सस्टेनेबल इकोसिस्टम को बढ़ावा देना, अकाउंटिंग, एश्योरेंस, टैक्सेशन, फाइनेंस, टेक्नोलॉजी और बिजनेस सलाहकार सेवाओं सहित विभिन्न क्षेत्रों में अनुसंधान अध्ययनों को मजबूत करना जैसे विभिन्न पहलुओं पर गहनता से ध्यान केंद्रित करेगा। सभी का उद्देश्य देश के आर्थिक विकास को बढ़ावा देना है। इस अवसर

आईआईएम संबलपुर ने एक्जीक्यूटिव एमबीए प्रोग्राम (2024-2026) में प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए

Image
संबलपुर, 19 मार्च, 2024- देश के प्रमुख प्रबंधन संस्थानों में से एक आईआईएम संबलपुर ने दो साल के एक्जीक्यूटिव एमबीए कार्यक्रम 2024-2026 के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। ऑनलाइन आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 31 मार्च, 2024 है। इस प्रोग्राम को इस तरह डिजाइन किया गया है कि इसकी सहायता से विद्यार्थी अपने कामकाज के क्षेत्र में नए और इनोवेटिव विचारों को आसानी से शामिल कर सकते हैं। साथ ही वे जटिल और मुश्किल कारोबारी  समस्याओं को हल करने, लोगों को मैनेज करने के संबंध में गहरा विजन हासिल कर सकते हैं। इस तरह उन्हें संगठनात्मक दृष्टि से मजबूत और अग्रणी तौर पर काम करने में आसानी होती है। पाठ्यक्रम को कामकाजी पेशेवरों के लिहाज से ही तैयार किया गया है और यह स्नातक परीक्षा में न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक और कम से कम 3 साल के पेशेवर अनुभव वाले लोगों को एक अनूठा अवसर प्रदान करता है। संकाय सदस्यों द्वारा लाइव सत्र के जरिये प्रतिभागियों को इंटरैक्टिव तरीके से सीखने की सुविधा मिलेगी। कार्यक्रम हाई डेफिनिशन, वीडियो कॉन्फ्रेंस आधारित वर्चुअल क्लासरूम (वीसीआर) ऑनलाइन प्लेटफॉर्म और ऑफलाइन मोड के जरिये संचालित किया जाएगा

आईआईएम संबलपुर ने मनाया अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस

Image
संबलपुर , 16  मार्च , 2024;: भारत के प्रमुख मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट में से एक आईआईएम संबलपुर ने विभिन्न क्षेत्रों में महिलाओं की उल्लेखनीय उपलब्धियों का सम्मान करते हुए उत्साहपूर्वक महिला दिवस कार्यक्रम मनाया। ' महिलाओं में करें निवेश : तेज होगी तरक्की ' विषय के साथ कार्यक्रम का उद्देश्य जीवन के सभी पहलुओं में महिलाओं को सशक्त बनाने और समर्थन देने के महत्व को उजागर करना था। अपनेआप में यह आयोजन महिलाओं के लिए अधिक न्यायसंगत, समावेशी और समृद्ध दुनिया बनाने की दिशा में सामूहिक प्रयास की शक्तिशाली अपील बन गया। आईआईएम संबलपुर लैंगिक-विविध कक्षाओं के बारे में चर्चा जगाने वाला पहला प्रबंधन संस्थान है, जिसके लिए इसने कई पहल की हैं। नेतृत्व में समावेशी विचार प्रक्रियाओं को बढ़ावा के लिए संस्थान के प्रशासनिक स्टाफ में भी महिलाओं की महत्वपूर्ण भागीदारी है। इस अवसर पर आईआईएम संबलपुर के डायरेक्टर सहित फैकल्टी कर्मचारी और विद्यार्थी उपस्थित थे। कार्यक्रम की शुरुआत महिलाओं द्वारा समाज में किए गए योगदान की सराहना के साथ हुई। अपने संबोधन में आईआईएम संबलपुर के डायरेक्टर प्रोफेसर महादेव जायसवाल ने

टेडएक्स आईआईएम संबलपुर के कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों की दिग्गज हस्तियों ने साझा किए कामयाबी के मंत्र

Image
संबलपुर, 16 मार्च, 2024- देश के प्रमुख प्रबंधन संस्थानों में से एक आईआईएम संबलपुर में टेडएक्स टॉक्स के तहत विभिन्न क्षेत्रों के प्रतिष्ठित और अग्रणी लोगों ने विद्यार्थियों के बीच चर्चा करते हुए अपने संघर्ष और अपनी कामयाबी से जुड़े विविध पहलुओं का खुलासा किया। प्रतिष्ठित वक्ताओं ने 'One More (S)mile' थीम के तहत अपना विजन छात्रों के सम्मुख साझा किया और बताया कि किस तरह उन्होंने लंबे संघर्ष के बाद वास्तविक सफलता का अनुभव किया। डॉ. सरिता मिश्रा कोल्हे, आईआरएस, प्रधान आयकर आयुक्त, संबलपुर ने मुख्य अतिथि के रूप में कार्यक्रम की गरिमा बढ़ाई। विभिन्न क्षेत्रों के अग्रणी लोगों ने अपने ज्ञान और सफलता के मंत्र छात्रों से साझा किए। इनमें बेस्टसेलिंग लेखक और सोशल इन्फ्लूएंसर निखिल चांदवानी, एक दूरदर्शी मार्केटिंग लीडर और बिजनेस रणनीतिकार नमिता तिवारी, मास्टर एनएलपी और सम्मोहन चिकित्सा प्रशिक्षक मृणाल चक्रवर्ती, प्रसिद्ध कॉस्मेटिक स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. सुरक्षित बतिना, अग्रणी मार्केटियर देवन भल्ला और इमामी लिमिटेड के एवीपी और एक प्रमाणित ईएसजी विशेषज्ञ अंकुर चतुर्वेदी के नाम प्रमुख हैं। इस का

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने आईआईएम संबलपुर में किया आई-हब इनक्यूबेटर का उद्घाटन

Image
संबलपुर; 04 मार्च, 2024: आईआईएम संबलपुर में केंद्रीय शिक्षा और कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान के हाथों फिजिकल और वर्चुअल इनक्यूबेटर आई-हब फाउंडेशन के उद्घाटन के साथ एक दिवसीय '100 क्यूब स्टार्ट-अप कॉन्क्लेव' की शुरुआत हुई। एक पंजीकृत कंपनी के रूप में धारा 8 के तहत स्थापित आई-हब फाउंडेशन कपड़ा, कला और संस्कृति, कृषि, स्वास्थ्य सेवा, वित्तीय और डिजिटल समावेशिता, आदिवासी उद्यमिता और स्थिरता सहित विभिन्न क्षेत्रों में नए वेंचर के पोषण और समर्थन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। यह विशिष्ट स्टार्टअप पहल 2036 में ओडिशा के शताब्दी समारोह तक अपने परिसर में 100 स्टार्टअप स्थापित करने का प्रयास करेगी, जिनमें से प्रत्येक का अनुमानित मूल्यांकन 100 करोड़ रुपए है। कॉन्क्लेव में प्रोफेसर महादेव जायसवाल, डायरेक्टर, आईआईएम संबलपुर; प्रोफेसर मनोज कुमार तिवारी, डायरेक्टर आईआईएम मुंबई; पीएम प्रसाद, एमडी, कोल इंडिया लिमिटेड; अमरेंदु प्रकाश, सीएमडी, स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड; संजीव बजाज, एमडी, बजाज फिनसर्व; रश्मि रंजन महापात्र, एमडी पैरी एंटरप्राइजेज; नागराज प्रकाशम, लेखक और

आईआईएम संबलपुर 100 क्यूब्स कॉन्क्लेव की मेजबानी के लिए पूरी तरह तैयार: प्रोफेसर महादेव जायसवाल

Image
संबलपुर, 1 मार्च 2024: प्रमुख मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट में से एक आईआईएम संबलपुर 1 मार्च, 2024 को 100 क्यूब्स कॉन्क्लेव की मेजबानी करने के लिए तैयार है। इसका उद्देश्य भारत में उद्यमशीलता की भावना को बढ़ावा देते हुए युवाओं को इनोवेशन करने और मूल्यो को ऊंचा उठाने के लिए मजबूत बनाना है। आईआईएम संबलपुर के सहयोग से भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय द्वारा शुरू की गई यह विशिष्ट स्टार्टअप पहल 2036 में ओडिशा के शताब्दी समारोह तक अपने परिसर में 100 स्टार्टअप स्थापित करने का प्रयास करेगी, जिनमें से प्रत्येक का अनुमानित मूल्यांकन 100 करोड़ रुपए है। आईआईएम संबलपुर के समावेशन और क्षेत्रीय विकास के मूल्यों के अनुरूप यह पहल क्षेत्र में उद्यमशीलता के लिए इकोसिस्टम तैयार करने की प्रेरणा देगी। सम्मेलन का उद्घाटन माननीय केंद्रीय शिक्षा, कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान द्वारा संस्थान सभागार में किया जाएगा। यह जानकारी आईआईएम संबलपुर के निदेशक प्रोफेसर महादेव जायसवाल ने बुधवार को एक संवाददाता सम्मेलन में दी। प्रो. जायसवाल ने बताया कि पूरे दिन भर चलने वाले सम्मेलन में पहले 'स्टार्टअप ओपन माइक

आईआईएम संबलपुर में 100-क्यूब स्टार्ट-अप कॉन्क्लेव का आयोजन 1 मार्च को, उद्यमशीलता की भावना को बढ़ावा देने का प्रयास

Image
संबलपुर , 26 फरवरी , 2024- आईआईएम संबलपुर के कैम्पस में शुक्रवार , 1 मार्च 2024 को 100- क्यूब स्टार्ट-अप कॉन्क्लेव का आयोजन किया जाएगा। एक दिन के इस कॉन्क्लेव का उद्देश्य भारत में उद्यमशीलता की भावना को बढ़ावा देना और युवाओं को इनोवेशन की दिशा में सशक्त बनाना है। आईआईएम संबलपुर के सहयोग से भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय द्वारा शुरू की गई इस विशिष्ट स्टार्टअप पहल के तहत 2036 में ओडिशा के शताब्दी समारोह तक अपने परिसर में 100 ऐसे स्टार्टअप स्थापित किए जाएंगे , जिनमें से प्रत्येक का अनुमानित मूल्यांकन 100 करोड़ रुपए होगा। समावेशन और क्षेत्रीय विकास के मूल मूल्यों के आधार पर आईआईएम संबलपुर के इस आयोजन के माध्यम से इस क्षेत्र में उद्यमशीलता से जुड़े ईको सिस्टम को बढ़ावा देने का प्रयास भी किया जाएगा। 1 मार्च को होने वाले कॉन्क्लेव के उद्घाटन समारोह के सम्मानित मुख्य अतिथि भारत सरकार के केंद्रीय शिक्षा और कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान होंगे। 100- क्यूब स्टार्ट-अप कॉन्क्लेव के साथ ‘ आई-हब फाउंडेशन ’ की शुरुआत भी होगी , जिसे धारा 8 के तहत एक पंजीकृत कंपनी के रूप में आईआई