Posts

वार्डविज़र्ड ने जून 2021 की तुलना में जून 2022 में 127 फीसदी सालाना की बढ़ोतरी दर्ज की; 2,125 इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहन बेचे

Image
वड़ोदरा, 05 जुलाई, 2022ः देश में इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों के ब्राण्ड ‘जॉय ई-बाईक’ के अग्रणी निर्माता वार्डविज़र्ड इनोवेशन्स एण्ड मोबिलिटी लिमिटेड ने पिछले साल की तुलना में जून 2022 में 127 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की है। कंपनी ने जून 2022 में लो-स्पीड और हाई-स्पीड इलेक्ट्रिक वाहनों की 2,125 युनिट्स बेचीं हैं, जबकि जून 2021 में कंपनी ने कुल 938 युनिट्स बेचीं थीं। उल्लेखनीय है कि कंपनी पहले से वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही (अप्रैल-जून 2022) के दौरान इलेक्ट्रिक स्कूटरों और मोटरसाइकलों की 8000 से अधिक (8,267) युनिट्स बेच चुकी है, इस तरह पिछले वित्तीय वर्ष की समान अवधि (अप्रैल-जून 2021) की तुलना में कंपनी ने 338 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की है। सेल्स और डिलीवरी के परफोर्मेन्स पर बात करते हुए श्री यतिन गुप्ते, चेयरमैन एवं मैनेजिंग डायरेक्टर, वार्डविज़र्ड इनोवेशन्स एण्ड मोबिलिटी लिमिटेड ने कहा, ‘‘इलेक्ट्रिक दोपिहया वाहन आज शहरी एवं अर्द्ध-शहरी क्षेत्रों में बड़ी संख्या में परिवारों का हिस्सा बन रहे हैं। हालांकि कच्चे माल की उपलब्धता की कमी के चलते कई चुनौतियों की वजह से हम बाज़ार में बढ़ती मांग को पूरा नहीं

एनटीपीसी को ‘2022 के सबसे पसंदीदा कार्यस्थलों’ में से एक घोषित किया गया

Image
नई दिल्ली, 05 जुलाई, 2022: एनटीपीसी को आज इंडिया टुडे के सहयोग से टीम मार्कस्मैन द्वारा आयोजित ‘मोस्ट प्रेफर्ड वर्कप्लेसेज़ 2022’ के प्रीमियम संस्करण में ‘मोस्ट प्रेफर्ड वर्कप्लेस ऑफ 2022’ यानि ‘2022 के सबसे पसंदीदा कार्यस्थलों’ में से एक के रूप में मान्यता दी गई है। 1 जुलाई 2022 को मुंबई में आयोजित एक समारोह के दौरान श्री दिलिप कुमार पटेल, निदेशक (एचआर), श्री मुनीष जौहरी, आरईडी (वेस्ट-1) और श्री अनिल कुमार जडली, जीएम, एचआर द्वारा इस प्रतिष्ठित पुरस्कार को प्राप्त किया गया। टीम मार्क्समेन द्वारा किए गए गहन अनुसंधान एवं सर्वेक्षण के बाद एनटीपीसी को यह खिताब दिया गया है। यह पुरस्कार उन संगठनों को दिया जाता है जो संगठनात्मक प्रदर्शन के साथ-साथ कर्मचारियों की भलाई, उनकी उत्पादकता बढ़ाने तथा एक नियोक्ता के रूप में भरोसा पैदा करने में सक्षम होते हैं। यह पुरस्कार उन संगठनों को दिया जाता है जो व्यापक व्यवसायिक परिदृश्य के अनुरूप अपने कर्मचारियों के लिए सार्थक सहयोगी, प्रेरक साबित होते हैं और उन्हें कार्य करने के बेहतर अनुभव के साथ उनकी ज़रूरतों को प्राथमिकता देकर उन्हें नई चीज़ें सीखने और स्वयं का

आईआईएम उदयपुर में दो वर्षीय एमबीए प्रोग्राम के 11वें बैच की शुरुआत, 345 विद्यार्थियों के साथ अब तक का सबसे बड़ा बैच

Image
उदयपुर, 4 जुलाई, 2022- इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, उदयपुर ने अपने 2 वर्षीय एमबीए प्रोग्राम के 11वें बैच की शुरुआत के लिए उद्घाटन समारोह का आयोजन किया। यह प्रोग्राम इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, उदयपुर का एक फ्लैगशिप प्रोग्राम है। 2 वर्षीय एमबीए प्रोग्राम के 11वें बैच में 345 छात्रों ने दाखिला लिया है और इस तरह यह अब तक का सबसे बड़ा बैच है। कार्यक्रम की अध्यक्षता इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, उदयपुर के डायरेक्टर प्रो. जनत शाह ने की, जबकि फिलिप्स अप्लायंसेज, इंडियन सब-कॉन्टिनेंट के एमडी और सीईओ गुलबहार तौरानी मुख्य अतिथि के तौर पर उद्घाटन समारोह में शामिल हुए। तौरानी की गिनती इंडस्ट्री की जानी-मानी हस्तियों में होती है और उन्होंने अपने विस्तृत करियर में बिजनेस हेड, मार्केटिंग डायरेक्टर और वाइस प्रेसिडेंट के रूप में विभिन्न लीडरशिप पदों का दायित्व संभाला है। उनका नजरिया है- ‘लोग सबसे पहले’, और अपने इसी विजन के साथ उन्होंने छात्रों के साथ अपनी अनुभवात्मक यात्रा साझा की। इस अवसर पर गुलबहार तौरानी ने कहा, ‘‘जीवन देने और लेने का ही दूसरा नाम है। लेकिन जब चुनने का मौका आए तो सावधानी

भारत ओमान रिफाइनरीज लिमिटेड (बीओआरएल) का भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड में विलय हुआ

Image
मुंबई , 04  जुलाई , 2022: भारत में पेट्रोलियम क्षेत्र की अग्रणी कंपनियों में से एक, भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल)ने बीना स्थित अपनी सहायक रिफाइनरी भारत ओमान रिफाइनरीज लिमिटेड (बीओआरएल) का अपने में विलय की घोषणा की। इस विलय से दोनों कंपनियों को पारस्परिक रूप से लाभ होने की उम्मीद है। बीपीसीएल और उसके समूह की कंपनियों की तेल और गैस उद्योग की अपस्ट्रीम, रिफाइनिंग और डाउनस्ट्रीम मूल्य श्रृंखला में महत्वपूर्ण उपस्थिति है, जबकि बीओआरएल पाइपलाइनों के नेटवर्क के माध्यम से उत्तरी और मध्य भारत में उत्पाद सुरक्षा और रसद लाभ प्रदान करता है। इसलिए बीना स्थित रिफाइनरी बीपीसीएल के लिए महत्वपूर्ण है, जो कि आंतरिक क्षेत्रों में पेट्रोलियम उत्पादों की मांग को पूरा करने के प्रयासों में है। इसके अतिरिक्त कच्चे तेल की खरीद पर लागत अनुकूलन, कच्चे फीडस्टॉक के चयन में लचीलापन, रिफाइनरियों के लिए उत्पादन योजना / उत्पाद मिश्रण, ये क्रूड खरीदारी के कुछ प्रमुख लाभ हैं। इस प्रगति पर बोलते हुए ,  अरुण कुमार सिंह ने कहा , " चूंकिऊर्जापरिदृश्यमेंबड़ेपैमानेपरबदलावहोरहेहैं ,  बीपीसीएलनेऊर्जाक्षेत्र

होण्डा मोटरसाइकल एण्ड स्कूटर इंडिया ने राजस्थान में आयोजित किया राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा जागरुकता अभियान जयपुर के लगभग 1200 स्कूली छात्रों एवं स्टाफ को सड़क सुरक्षा के गुर सीखने का मौका मिला

Image
जयपुर, 04 जुलाई, 2022ः कोविड के बाद के दौर में भारत को दुर्घटना मुक्त बनाने के लिए लोगों को सड़क सुरक्षा के बारे में जागरुक बनाने की आवश्यकता पर ज़ोर देते हुए होण्डा मोटरसाइकल एण्ड स्कूटर इंडिया (एचएमएसआई) का राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा जागरुकता अभियान राजस्थान के जयपुर पहुंचा। राजस्थान के जयपुर स्थित SBIOA पब्लिक स्कूल में आयोजित इस तीन दिवसीय कैम्प (28-30 जून 2022) में लगभग 1200 स्कूली छात्रों एवं स्टाफ के सदस्यों ने हिस्सा लिया और सुरक्षित राइडिंग के गुर सीखे। एचएमएसआई के रोड सेफ्टी इंस्ट्रक्टर्स ने प्रतिभागियों की उम्र को ध्यान में रखते हुए उचित सड़क सुरक्षा लर्निंग प्रोग्राम के माध्यम से सभी को सड़क सुरक्षा के बारे में जागरुक बनाया। भारत को सड़क सुरक्षा पर जागरुक बनाने की एचएमएसआई की प्रतिबद्धता के बारे में बात करते हुए श्री प्रभु नागराज, ऑपरेटिंग ऑफिसर- ब्राण्ड एण्ड कम्युनिकेशन, होण्डा मोटरसाइकल एण्ड स्कूटर इंडिया ने कहा, ‘‘सड़क सुरक्षा शिक्षा, सड़क सुरक्षा की मानसिकता विकसित करने के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। भारतीयों को सड़कों पर सुरक्षित बनाने की अपनी प्रतिबद्धता को मजबूत बनाते हुए हमने अपने र

फिलॉन्थ्रॉफिस्ट्स व टेक्नोलॉजी पायनियर्स ने दो दिवसीय ‘"अचीविंग माइलस्टोन विद ह्यूमैनिटी’ की मेजबानी की

Image
जयपुर में आयोजित कार्यक्रम में छात्र- छात्राओं, युवाओं और कॉर्पोरेट क्षेत्र के कुशल विशेषज्ञों को मोटिवेट किया। जयपुर। दुनिया तेजी से चूहे की दौड़ में शामिल होने की होड़ में लगी है। इस दौड़ के साथ तेजी से हमारे अंदर की नैतिकताएं और मूल्य भी हर दिन पीछे छूटती जा रही हैं। लगातार छात्र-छात्राएं स्वयं को साबित करने की होड़ में लगे हैं। उनके मन मस्तिष्क में अजीब किस्म की जद्दोजहद चल रही है। आगे बढ़ने के संघर्ष का सामना करते हुए वे गलाकाट प्रतियोगिता का हिस्सा बन चुके हैं। ये युवा पेशेवर तेजी से भागती कॉर्पोरेट दुनिया में अपनी योग्यता साबित करने की लगातार कोशिश कर रहे हैं। इनका मकसद है तो बस रेस में आगे बने रहना। जीवन में लगातार ह्यूमैनिटी का अभ्यास करें:- हमारे आपके दिलों में ह्यूमैनिटी बची रहे, इस उद्देश्य से पावर कपल, फिलांथ्रॉफिस्ट्स व टेक्नोलॉजी पायनियर्स ‘विमल डागा व प्रीती डागा’ ने 2 व 3 जुलाई को कार्यक्रम की मेज़बानी की। जो कि ‘अचीविंग माइलस्टोन विद ह्यूमैनिटी’ विषय पर हुआ। इस दौरान  कार्यक्रम में लेट्स डिजाइन लाइफ के संस्थापक संजीव सचदेवा,टेक्नोलॉजी लीडरशिप एंड एम्पावरमेंट कोच के उज्

माता-पिता के आशीर्वाद और अपनी मेहनत के बदौलत श्रीगंगानगर के कुणाल वशिष्ठ ने एपीआरओ परीक्षा में पाई सफलता

Image
श्रीगंगानगर , 02 जुलाई 2022: अभी हाल ही में आयोजित हुई एपीआरओ परीक्षा में श्रीगंगानगर के कुणाल वशिष्ठ ने सफलता प्राप्त की और उनका चयन हो गया है. जयपुर से वापिस घर पहुँचने पर कुणाल का माता पिता ने मिठाई खिलाकर स्वागत किया. कुणाल ने अपनी सफलता का श्रेय अपने माता पिता और अपनी मेहनत को दिया है. कुंज विहार निवासी 26 वर्षीय कुणाल वशिष्ठ ने अपनी स्कूली शिक्षा श्रीगंगानगर में प्राप्त की और उसके बाद कालेज की शिक्षा के लिए कुणाल जयपुर और दिल्ली चले गए. कुणाल के पिता अजय वशिष्ठ पीडब्ल्यूडी में एडमिनिस्ट्रेटिव आफिसर हैं और माता अनीता वशिष्ठ अध्यापिका हैं. कुणाल के अनुसार डिजिटल मीडिया में एक बूम आया और कोविड के दोरान यह भड़ा और यह पूरी तरह से चारो और छा गया ऐसे में इस इंडस्ट्री में सम्भावनाये है और एडवांस्ड टेक्नॉलजी को देखते हुए उन्होंने डिजिटल पीआर मीडिया को करियर बनाने के बारे में सोचा. कुणाल ने मुद्रा इंस्टिट्यूट ऑफ़ कम्युनिकेशन एंड आर्ट्स से डिजिटल मीडिया में पीजी डिप्लोमा किया. इसके बाद कई नामी कम्पनियो में डिजिटल मीडिया मेनेजर के पद पर कार्य किया. कुणाल ने खेल एवं युवा मामलात मंत्रालय, दिल्ल