रेमंड का मज़बूत त्रैमासिक प्रदर्शन लगातार जारी

भारत 06 अगस्त 2022: रेमंड लिमिटेड ने 30 जून 2022 को समाप्त हुई तिमाही के समेकित वित्तीय परिणाम आज घोषित किए। 

समेकित वित्तीय परिणामों का एक स्नैपशॉट (पोस्ट आईएनडी एएस 116)

वित्तीय वर्ष 2022 की दूसरी छमाही में रिकॉर्ड प्रदर्शन के बाद, वित्तीय वर्ष 2023 की पहली तिमाही में पिछले दस सालों की पहली तिमाही की सबसे ज़्यादा आय और लाभप्रदता दर्ज करते हुए रेमंड लिमिटेड ने तिमाही में शानदार प्रदर्शन को लगातार जारी रखा है। बाज़ार में आए उछाल और शादी के सीज़न की वजह से मांग में आयी तेज़ी के साथ-साथ देशभर में फैले हुए, व्यापक वितरण ने भी बिक्री को बढ़ावा दिया। सभी बाज़ारों में भावनाओं में स्थिरता और मज़बूत खपत के साथ बी2सी कारोबार बढ़ता जा रहा है। गारमेंटिंग व्यवसाय ने मजबूत ऑर्डर बुक के साथ अपनी प्रतिरोधकक्षमता साबित की। घरों की खरीदारी में लगातार मांग ने विविध उत्पाद पेशकशों के साथ हमारे रियल एस्टेट कारोबार को बढ़ाने में योगदान दिया।

आने वाले त्योहारों और शादी के सीज़न के सेल्स के लिए किए गए ज़्यादा उत्पादन की वजह से पहली तिमाही में इन्वेंटरी अस्थायी रूप से ज़्यादा है। इससे कार्यशील पूंजी बढ़ी है, परिणामवश शुद्ध ऋण 222 करोड़ रुपयों से बढ़कर 1310 करोड़ रूपए हुआ है। लेकिन हम हमारे ऋण को घटाने की योजनाओं को जारी रखेंगे और वर्तमान वित्तीय वर्ष में हमारा वर्तमान शुद्ध ऋण और भी कम किया जाएगा।

तिमाही में शानदार प्रदर्शन पर रेमंड लिमिटेड के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर श्री. गौतम हरी सिंघानिया ने कहा, "रेमंड में, सभी व्यवसायों में परिचालन और वित्तीय पैरामीटर्स पर हमारा निरंतर ध्यान, व्यापक नेटवर्क, गुणवत्तापूर्ण उत्पादों और सेवाओं के साथ हमने पहली तिमाही में सबसे ज़्यादा आय और लाभप्रदता हासिल की है। घरेलु और अंतर्राष्ट्रीय, दोनों बाज़ारों में बढ़ती हुई मांग और अंतर्राष्ट्रीय बाज़ारों में नए ग्राहकों के अधिग्रहण इस तिमाही के लिए फायदेमंद रहा। ठाणे में दोनों प्रोजेक्ट्स के बिक्री वेग और निर्माण गति के साथ हमारा रियल एस्टेट प्रोजेक्ट अच्छी तरह से आगे बढ़ रहा है। इससे हमें हमारे रियल एस्टेट कारोबार में मज़बूत प्रदर्शन देने में मदद मिली है।" 

वित्तीय वर्ष 2023 की पहली तिमाही में हर सेगमेंट का प्रदर्शन:

ब्रांडेड टेक्सटाइल सेगमेंट की बिक्री (648 करोड़ रूपए) में वित्तीय वर्ष 2022 की पहली तिमाही में 283 करोड़ रुपयों के मुकाबले 129% का भारी इजाफा हुआ है। महामारी के पहले यानी वित्तीय वर्ष 2020 की पहली तिमाही के मुकाबले भी टॉपलाइन 8% ज़्यादा है। शादी के सीज़न की वजह से व्यस्त रही गर्मियों ने वृद्धि को बढ़ावा दिया और हमारे सभी प्राथमिक चैनल्स में मांग काफी बढ़ी और सेकंडरी सेल्स में भी बिक्री की गति तेज़ रही। हमारे रिटेल स्टोर्स में आने वाले खरीदारों की संख्या बढ़ी और उपभोक्ताओं इंक्रीमेंटल खर्च बढ़ाया। इस सेगमेंट में 17.6% का मज़बूत ईबीआईटीडीए मार्जिन दर्ज किया गया जिसका मुख्य कारण परिचालन क्षमताओं में हुआ सुधार था।

ब्रांडेड कपड़ों के सेगमेंट में, हमारे ब्रांड्स के लिए ग्राहकों की मांग में हुआ इजाफा और शादी के सीज़न में खरीदारी में आयी तेज़ी ने वित्तीय वर्ष 2023 की पहली तिमाही में बिक्री को 262 करोड़ रुपयों तक बढ़ाया। इस तिमाही में ऑनलाइन से लेकर सभी सेल्स चैनल्स में वृद्धि दिखाई दी। सेगमेंट ने ईबीआईटीडीए मार्जिन 5.6% दर्ज किया। पिछले वर्ष में सेगमेंट को ईबीआईटीडीए में नुकसान सहना पड़ा था।

द रेमंड शॉप (टीआरएस) नेटवर्क में हमें महामारी के पहले की समान अवधि की तुलना में एवरेज ट्रांज़ैक्शन वैल्यू (एटीवी) में 31% की वृद्धि मिली है। 30 जून 2022 के आंकड़ों के अनुसार, टीआरएस के सभी 1372 स्टोर्स और ईबीओ में खरीदारी की भारी भीड़ देखी गयी।

गारमेंटिंग सेगमेंट में इस तिमाही में 247 करोड़ रुपयों की बिक्री दर्ज की गयी, पिछले वर्ष के 98 करोड़ रुपयों की तुलना में इसमें 153% की मजबूत वृद्धि हुई है। यूएस और यूरोप के बाज़ारों में मौजूदा उपभोक्ताओं से मांग में इजाफा और नए ग्राहकों के जुड़ने की वजह से यह वृद्धि हुई है। तिमाही में ईबीआईटीडीए मार्जिन बढ़कर 6.1% हो गया, जिसका मुख्य कारण भारतीय और इथियोपियाई दोनों परिचालनों में उपयोग के स्तरों में हुई वृद्धि था।

हाई वैल्यू कॉटन शर्टिंग सेगमेंट में वृद्धि पिछले वर्ष 101 करोड़ रुपयों से 68% से बढ़कर 170 करोड़ रूपए हुई। घरेलु बाज़ार में हमारे बी2बी ग्राहकों द्वारा कॉटन फैब्रिक की मांग में हुआ इजाफा इसका मुख्य कारण था। इस तिमाही में सेगमेंट का ईबीआईटीडीए मार्जिन 9.7% था।

इंजीनियरिंग व्यवसाय में, कुल आधार पर, पिछले वर्ष के 180 करोड़ रुपयों की तुलना में बिक्री 17% बढ़कर 209 करोड़ रूपए हो गई। बिक्री में हुई यह वृद्धि मुख्य रूप से घरेलू बाजारों में सभी श्रेणियों में हुई मजबूत वृद्धि से प्रेरित थी और रिंग गियर, ड्रिल और असर श्रेणियों में वृद्धि के साथ अमेरिका, यूरोप और एशिया के निर्यात बाजारों से भी इसे अच्छा समर्थन मिला। तिमाही में कारोबार का ईबीआईटीडीए 27 करोड़ रूपए रहा।

रियल एस्टेट कारोबार ने बिक्री में पिछले वर्ष के 130 करोड़ रुपयों में 120% की मजबूत बिक्री वृद्धि के साथ 286 करोड़ रूपए की बिक्री दर्ज की। मांग में सुधार, बाजार में आयी लिक्विडिटी और परियोजनाओं की निर्माण गति में आयी तेजी से बुकिंग में भारी इजाफा देखा गया है। प्रोजेक्ट 'टेन एक्स' को वित्तीय वर्ष 2023 की पहली तिमाही में 157 बुकिंग्स मिले हैं, जिससे जून, 2022 तक कुल 2,066 यूनिट (लॉन्च की गई कुल इन्वेंट्री का ~ 80%) बुक हो चुके हैं। प्रीमियम आवासीय परियोजना 'द एड्रेस बाय जीएस' में 102 बुकिंग्स मिले जिससे परियोजना में कुल बुकिंग्स 281 (~ 68%) हो चुकी है, जिसका बुकिंग मूल्य 670 करोड़ रूपए है। हाल ही में, मुंबई के बांद्रा में एक प्रमुख स्थान पर एक प्रीमियम आवासीय परियोजना के लिए एक निश्चित संयुक्त विकास समझौते (जेडीए) पर हस्ताक्षर किए गए हैं।          

Popular posts from this blog

पीएनबी मेटलाइफ सेंचुरी प्लान - आजीवन आय और पीढ़ियों के लिए सुरक्षा

उदयलाल आंजना का सहकारिता मंत्री प्रभार यथावत रखने पर सहकार नेता सूरज भान सिंह आमेरा ने जताया मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का आभार

पैरेंट्स अपने बच्चों को कैसे रख सकते हैं कोविड-19 से सुरक्षित