एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस ने 30 जून, 2022 को समाप्त तिमाही के लिए 5,591 करोड़ रुपए का न्यू बिजनेस प्रीमियम कलैक्शन दर्ज किया

देश में अग्रणी जीवन बीमा कंपनियों में से एक, एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस ने 30 जून, 2022 को समाप्त तिमाही के लिए रु.5,591 करोड़ का नया बिजनेस प्रीमियम दर्ज किया, जबकि 30 जून, 2021 को समाप्त तिमाही के लिए यह राशि रु.3,345 करोड़ थी। 30 जून, 2021 को समाप्त हुई इसी तिमाही की तुलना में नियमित प्रीमियम में 83 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

पूरी तरह सुरक्षा पर अपना ध्यान केंद्रित करते हुए 30 जून, 2022 को समाप्त तिमाही के लिए एसबीआई लाइफ का प्रोटेक्शन न्यू बिजनेस प्रीमियम 695 करोड़ रुपए रहा, जो 63 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाता है। प्रोटेक्शन इंडिविजुअल न्यू बिजनेस प्रीमियम ने 55 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की और 30 जून, 2022 को समाप्त तिमाही के लिए यह राशि रही 203 करोड़ रुपए। इंडिविजुअल न्यू बिजनेस प्रीमियम 3,430 करोड़ रुपए है, जो 30 जून, 2021 को समाप्त इसी तिमाही की तुलना में 87 प्रतिशत अधिक है। .

30 जून, 2022 को समाप्त तिमाही में एसबीआई लाइफ का कर पश्चात लाभ रु.263 करोड़ रहा।

1.50 की नियामक आवश्यकता के मुकाबले कंपनी का सॉल्वेंसी अनुपात 30 जून, 2022 को 2.21 पर मजबूत बना हुआ है।

30 जून, 2022 को एसबीआई लाइफ का एयूएम भी 13 फीसदी की वृद्धि के साथ 2,62,349 करोड़ रुपए पर पहुंच गया, जो 30 जून, 2021 को 2,31,559 करोड़ रुपए था, जिसमें 73-27 का डेट-इक्विटी मिश्रण था। ऋण निवेश का 97 प्रतिशत से अधिक एएए और सॉवरेन इंस्ट्रूमेंट्स में है।

कंपनी के पास 2,22,957 प्रशिक्षित बीमा पेशेवरों का विविधतापूर्ण वितरण नेटवर्क है और 970 कार्यालयों के साथ कंपनी की देशभर में व्यापक उपस्थिति है। इसमें मजबूत बैंकअश्योरेंस चैनल, एजेंसी चैनल और अन्य शामिल हैं जिनमें कॉर्पोरेट एजेंट, ब्रोकर, पॉइंट ऑफ सेल पर्सन्स (पीओएस), इंश्योरेंस मार्केटिंग फर्म, वेब एग्रीगेटर और डायरेक्ट बिजनेस शामिल हैं।

30 जून, 2022 को समाप्त तिमाही के लिए प्रदर्शन

  • व्यक्तिगत एनबीपी में 87 प्रतिशत वृद्धि और 24.5 प्रतिशत की बाजार हिस्सेदारी के साथ रु.3,430 करोड़ के साथ मार्केट लीडरशिप।
  • एपीई में 80 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 2,905 करोड़ रुपए।
  • नए कारोबार के मूल्य (वीओएनबी) में 130 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 882 करोड़ रुपए।
  • वीओएनबी मार्जिन 665 बीपीएस बढ़कर 30.4 प्रतिशत हो गया।
  • प्रोटेक्शन एनबीपी में 63 प्रतिशत की मजबूत वृद्धि, 695 करोड़ रुपए पर ।
  • इंडिविजुअल न्यू बिजनेस सम एश्योर्ड में 52 प्रतिशत की वृद्धि।
  • पीएटी में 18 प्रतिशत की वृद्धि, रु.263 करोड़ पर।
  • 2.21 का मजबूत सॉल्वेंसी रेशियो।

 

Popular posts from this blog

पीएनबी मेटलाइफ सेंचुरी प्लान - आजीवन आय और पीढ़ियों के लिए सुरक्षा

उदयलाल आंजना का सहकारिता मंत्री प्रभार यथावत रखने पर सहकार नेता सूरज भान सिंह आमेरा ने जताया मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का आभार

पैरेंट्स अपने बच्चों को कैसे रख सकते हैं कोविड-19 से सुरक्षित