रूकमणी बिरला हॉस्पिटल, जयपुर ने पांचवी वर्षगांठ की पूर्व संध्या पर कोविड योद्धाओं का किया सम्मान और साथ ही नई टेक्नोलॉजी को बढ़ाया

 

जयपुर। रूकमणी बिरला हॉस्पिटल, जयपुर ने अपनी 5वी वर्षगांठ के उपलक्ष्य में पूर्व संध्या पर कोरोना महामारी की दूसरी लहर में वायरस से लडनें वाले कोविड योद्धाओं के सम्मान हेतु कार्यक्रम आयोजित किया। हॉस्पिटल ने कोरोना से लडाई लड कर नया जीवन प्राप्त करने वाले युवाओं के लिए अपने अनुभव को साझा करने के लिए एक मंच दिया जिसमें महामारी के दौरान मरीजों का इलाज करने वाले चिकित्सक एवं सी के बिरला हॉस्पिटल्स के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर डॉ.सिमरदीप सिंह गिल मौजूद रहें। डॉक्टर्स एवं मरीजों के बीच विश्वास जाहिर तौर पर व्यक्त किया गया जिसने उन्हें इस कठिन समय में आगे बढते रहने के लिए प्रेरित किया।

रूकमणी बिरला हॉस्पिटल, जयपुर पिछले साल से कोविड देखभाल के लिए समर्पित अस्पताल रहा है जिसमें इन्टरनल मेडिसिन एवं पल्मोनोलॉजी विशेषज्ञ शामिल थे। डॉ.सुशील कालरा, निदेशक-इन्टरनल मेडिसिन जो कि 60 वर्ष से अधिक उम्र होने के बावजूद अपने जीवन को जोखिम में डाल कर मरीजों की सेवा कर रहें है। वहीं युवा चिकित्सको की टीम जिसमें डॉ.पुनीत गुप्ता, वरिष्ठ सामान्य रोग विशेषज्ञ, डॉ.राकेश गोदारा, वरिष्ठ पल्मोनोलॉजी एवं क्रिटीकल केयर विशेषज्ञ एवं डॉ.अम्बरीश गर्ग, आपातकालीन एवं सामान्य रोग विशेषज्ञ ने अपनी व अपने परिजनों की जान की परवाह किये बिना हजारों कोरोना के गम्भीर व सामान्य रोगियों के जीवन को बचाया। 

इस अवसर पर बोलते हुए सी के बिरला हॉस्पिटल्स के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर डॉ. सिमरदीप सिंह गिल ने हैल्थकेयर इंडस्ट्री के स्पेक्ट्रम का संक्षिप्त विवरण दिया और रूकमणी बिरला हॉस्पिटल के भविष्य कि योजनाओं के बारें में बताया। उन्होंने कहा कि आज रूकमणी बिरला हॉस्पिटल की 5वी वर्षगांठ की पूर्व संध्या पर कोविड पीडितों को बधाई देना चाहता हूँ  जिन्होंने कोविड के समय में अपने जीवन को बदलनें वाले अनुभवों के बारें में बताया। पूरी डॉक्टर्स एवं नर्सिंग टीम को मेरी बधाई क्योंकि इस तरह अनुभव हमें कई चुनौतियों का सामना करने के बावजूद उत्कृष्टता की ओर बढ़ते रहने के लिए प्रेरित करते है।

डॉ.गिल ने कहा कि 5 साल पहले, जहां तक स्वास्थ्य सेवा का सवाल था, जयपुर हमारे लिए अपेक्षाकृत एक नया स्थान था। लेकिन एक र्गनाइजेशन के रूप में हम स्वास्थ्य सेवा के लिए नए नही थे। हमारे प्रमुख अस्पताल सीएमआरआई कोलकत्ता 51 साल पुराना है और बीएमबी हार्ट रिसर्च सेंटर 30 साल से अधिक पुराना है। जब हमने रूकमणी बिडला हॉस्पिटल की स्थापना की थी, तब हम यही विशेषज्ञता लेकर आए थे। विशेषज्ञ और अनुभवी चिकित्सको के साथ एक मजबूत प्रशासनिक टीम और अद्भूत नर्सिंग स्टाफ हॉस्पिटल के स्तंभ रहे है। जैसे जैसे हम आगे बढते गये, हमारा पूरा ध्यान मरीजों को नैदानिक और गैर नैदानिक सभी पहलुओं में एक बेहतर अनुभव प्रदान करने का रहा है। उन्होंने बताया कि पूरी तरह से सुसज्जित मेडिकल, कार्डियक और सर्जिकल आईसीयू के अलावा एक 10 बेड वाला न्यूरो आईसीयू का काम चल रहा है, जिसमें सभी न्यूरोलॉजिकल और न्यूरोसर्जिकल महत्वपूर्ण जरूरतों को पूरा करने के लिए अत्याधुनिक सुविधाऐं होगी। एक र्गनाइजेशन के रूप में हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि हर मरीज हॉस्पिटल से खुश होकर घर वापस जाए।

डॉ.गिल ने कहा कि डिजिटल स्पेस सभी क्षेत्रों में बिल्कुल रोमांचकारी है और चिकित्सा क्षेत्र में कोई अपवाद नहीं है। इसे ध्यान में रखते हुए आज हमने आरबीएच ऑनलाइन ऐप लॉन्च किया है। यह उपयोगकर्ताओं को अपने घर पर ही चिकित्सा सम्बंधी सेवाओं को आसान करने में मदद करेगा। इसके पीछे हमारा उदे्श्य है स्वास्थ्य से सम्बन्धित आवश्यकताओं के लिए कि एक ही जगह एक संरचित, प्रक्रिया उन्मुख एवं सही तरीके से सारा समाधान मिल जाये। आरबीएच ऑनलाइन ऐप राजस्थान के लोगों के लिए अपनी तरह का एक अनुठा ऐप होगा। इस महामारी के दौरान जहां रोगी एवं डॉक्टर्स के आमने-सामने के परामर्श में बाधा उत्पन्न हुई और लॉक डाउन एक नया आर्दश बन गया। इसलिए निरंतर अपनी दक्षता को सक्षम करने के लिए रूकमणी बिरला हॉस्पिटल एक ऐसा एप्लिकेशन लेकर आया है जो मरीजों को परेशानी मुक्त तरीके से अपने डॉक्टर के साथ अपॉइंटमेंट बुक करने में मदद करेगा। अपॉइंटमेंट बुकिंग और ऑनलाइन परामर्श से लेकर रिपोर्ट डाउनलोड करने तक, सबकुछ ऐप के माध्यम से डिजिटल रूप से किया जा सकता हैं इससे न केवल जयपुर के लोगों को बल्कि राजस्थान के अन्य जिलों में रहने वालों को भी मदद मिलेगी। 


Popular posts from this blog

पीएनबी मेटलाइफ सेंचुरी प्लान - आजीवन आय और पीढ़ियों के लिए सुरक्षा

स्वाल कॉर्पोरेशन ने लॉन्च किया वूक्सल मैक्रोमिक्स - गेहूं की फसल पर हीट स्ट्रेस से निपटने के लिए पोषण संबंधी एक अभिनव समाधान

महिंद्रा और मैजेंटा ने बेंगलुरू में लास्टर माइल डिलिवरी के लिए संपूर्ण ईवी समाधान महिंद्रा ट्रेओ ज़ोर लॉन्ची किया